Money

RTGS क्या होता है और कैसे काम करता है? What is RTGS and how does it work?

क्या आप जानते हैं की RTGS क्या होता है (RTGS in Hindi) और क्यूँ इसके विषय में जानकारी रखना जरुरी है. आजकल Banking के सारी चीज़ें हम घर बैठे ही कर सकते हैं. अब वो दिन चले गए की जब हमें bank में जाकर लम्बी line में खड़ा होना पड़ता था और अपने Challan या simple money transfer करने के लिए भी बहुत समय इंतजार करना पड़ता था. आप अभी भी ऐसा कर सकते हैं लेकिन क्यूँ अपना बहुमूल्य समय नष्ट करें जब हम अपने घर से ही ये सभी काम कर सकते हैं.

आजकल कई modern banking solutions उपलब्ध हैं जैसे की Real Time Gross Settlement (RTGS), National Electronic Funds Transfer (NEFT), और Immediate Payment Service (IMPS) जो की इन payment process को बहुत ही आसान बना देते हैं. ऐसे services के होने से हमारे transactions को जल्दी, आसानी से और सुरक्षित रूप से कर सकते हैं.

तो आज हम जिस banking solution के बारे में जानेंगे वो है RTGS (Real Time Gross Settlement System) यह एक बहुत ही popular electronic fund transfer method है भारत में।

इसके अंतर्गत पैसों को real time में और individual basis में भेजा जाता है. RTGS की मदद से आप ज्यादा पैसे एक साथ एक bank account से दुसरे bank account पर भेज सकते हैं. तो आज में आप लोगों को इस article पर RTGS क्या है और हम कैसे इसका इस्तमाल कर सकते हैं के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे, तो फिर बिना देरी किये चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं की RTGS क्या है.

RTGS क्या होता है (RTGS in Hindi)

RTGS का full form होता है Real Time Gross Settlement. ये एक continuous, real-time process है funds settlement का जहाँ की funds को individually और order-by-order के basis पर बिना netting के एक account से दुसरे account पर भेजा जाता है।

अगर आसान भाषा में कहूँ तो यह एक ऐसा online banking method है जहाँ की पैसों को एक bank से दुसरे bank तक बिना कोई waiting period के भेजा जाता है.

Reserve Bank of India (RBI) के हिसाब से ये term ‘Real Time’ refer करता है की ये सारे instructions को साथ साथ process कर रहा होता है जैसे जैसे वो receive हो रहे होते हैं और न की उसे बाद के समय में process होने के लिए छोड़ा जाता है।

और दूसरा term ‘Gross Settlement’ का अर्थ होता है की funds transfer instructions की settlement individually होता है (instruction-by-instruction basis) पर.

चूँकि ये system को RBI के द्वारा maintained किया जाता है इसलिए सारे settlement of funds को उनके books या records में दर्ज किया जाता है, जिस कारण से RTGS payments final और irrevocable होते हैं जिसका मतलब है की इसे दुबारा से नहीं किया जा सकता है।

इसलिए RTGS एक बहुत ही fastest जरिया है पैसों को transfer करने के लिए secure banking channels के द्वारा. RTGS के माध्यम से आप कम से कम 2,00,000 रूपए तक Transfer कर सकते हैं और अधिकतम की कोई Limit नहीं है, आप जितना चाहे उतना Fund Transfer कर सकते हैं, जब तक कि आपका Bank Branch आपके लिए Limit न तय कर दे।

तो इससे ये पता चलता है की RTGS का इस्तमाल ज्यादा पैसों के कारोबार के लिए उपयुक्त है.

इसके अलावा जो बहुत ही महत्वपूर्ण advantage है दुसरे fund transfer methods के मुकाबले वो ये की ये सभी interbank transfers की settlement risks को eliminate कर देता है और ये RBI के द्वारा संचालित होने के कारण बहुत secure होता है.

RTGS कैसे करे

ये सवाल लोगों के मन में आता है की कैसे वो RTGS के मदद से पैसों का transfer करें. तो इसका बहुत ही आसान सा उत्तर है की ये हम दो तरह से कर सकते हैं एक है Online तरीका और दूसरा है Offline तरीका. तो में आप लोगों को इन दोनों तरीकों के विषय में जानकारी देने वाला हूँ.

Online Method RTGS के लिए

Online Method के लिए आप Internet Banking का इस्तमाल करके RTGS कर सकते हैं. इसके अंतर्गत यदि आपको जिस व्यक्ति को Fund Transfer करना है उसे Payee अथवा Beneficiary Customer के रूप में अपने Account में Add करना होता है ।

जहाँ आपको उस customer के विषय में सारी जानकारी प्रदान करनी होती है और उसके बाद Bank, उस Beneficiary की Details को Check करता है. इस काम के लिए Bank को Beneficiary की Detail Check करने में लगभग 12-24 घंटें का समय लगता है.

Bank के द्वारा जब Checking Process पूरी तरह से Complete हो जाती है तब Bank के द्वारा Beneficiary Customer को Activate कर दिया जाता है जिसके बाद आप उस Beneficiary Customer को Fund Transfer कर सकते हैं।

किसी भी Person को अपने Bank Account में Beneficiary अथवा Payee के रूप में Add करने के लिए आपके पास Beneficiary Customer से Related निम्नiलिखित Information का होना जरूरी होता है अन्यसथा आप अपने Internet Banking A/c द्वारा उसे Beneficiary के रूप में Add नहीं कर सकते हैं :-

  • Bank और Bank Branch का नाम
  • Name और Account Number
  • उनके Bank का IFSC Code (Indian Financial System Code)

Offline Method RTGS के लिए

  • यदि आपको Online में apply करना नहीं आता है तब आप इसे Offline में भी apply कर सकते हैं पर इसके लिए आपको Physically Bank Branch में जाकर ठीक उसी तरह से एक Slip भरनी होती है, जिस तरह से आप Cheque Deposit या NEFT करते समय Normally Form भरते हैं.
  • जैसे ही आप Instruction Slip Fill करके Deposit करते हैं, तो Sending Bank उस Instruction Slip में भरी गई Information को अपने Central Processing System में Feed कर देता है.
  • Information Central Processing System पर Feed करते ही उसे RBI को Send कर दी जाती है.
  • इसके पश्चात RBI सारी Transaction को Process करके Complete करता है और Sending Bank के Account से Amount (पैसों) को Debit करके जिस Bank को RTGS किया गया है उसके Account में उस Amount को Credit कर देता है.
  • इस पूरी Process के बाद एक Unique Transaction Number (UTN) Generate होता है, जिसे RBI, Amount Send करने वाले Bank को भेज कर देता है. Sender Bank को ये UTN प्राप्तo होने का ये मतलब होता है कि आपका Fund अभी Transfer हो गया है.
  • जैसे ही Amount Send करने वाले Bank को UTN Receive होता है, वैसे ही वह Bank इसकी जानकारी Amount Receive करने वाले Bank को देता है और उसके बाद Receiver Bank वह Amount उस Account Holder के Account में Credit कर देता है जिसे Amount Send किया गया है.

इस प्रक्रिया जो पूरा होने के लिए लगभग 30 Minutes की अवधि लग जाती है एयर इसके दौरान ही आपका RTGS Transaction Complete हो जाता है और Fund Beneficiary के Account में Credit कर दिया जाता है.

RTGS Transaction के Features:

यहाँ पर में आप लोगोंको RTGS transaction से सम्बंधित कुछ features के विषय में बताने जा रहा हूँ जिनके विषय में आपको जानना बहुत ही जरुरी है :

  • 1.  इसमें Realtime online fund transfer किया जाता है
  • 2.  इसे मुख्यतः high value transactions के लिए इस्तमाल किया जाता है
  • 3.  ये बहुत ही Safe और secure होता है
  • 4.  ये बहुत ज्यादा Reliable है क्यूंकि इसके पीछे RBI का हाथ होता है
  • 5.  इसमें Immediate clearing हो जाती है
  • 6.  इसके साथ इसमें Funds को one-on-one basis में credit किया जाता है
  • 7.  इसमें Transactions को individual और gross basis में execute किया जाता है

RTGS Transactions के Fees और Charges क्या है

इस प्रक्रिया में recipient bank (जिस bank को पैसे भेजे जाते हैं) को कोई भी charge नहीं पड़ता है RTGS transaction के लिए. लेकिन sender (जो पैसे भेजता है), इन्हें bank कुछ charges लगाता है पैसों के Transfer के लिए जो की कुछ इस प्रकार है :

AmountRTGS Fee
Rs.2 lakh से Rs.5 lakh तकRs.30 per transaction
Above Rs.5 lakh तकRs.55 per transaction

RTGS करने के Timings

Weekdays9.00 a.m. से 4.30 p.m तक
Saturdays9.00 a.m. से 2.00 p.m तक

RTGS असल में किनके लिए जरूरी है?

अगर कोई व्यक्ति दैनिक बड़े transactions कर रहा है तब उन्हें मुख्यतः RTGS की जरुरत होती है. देखा जाये तो कारोबारियों के द्वारा ये ज्यादा इस्तमाल में लाये जाते हैं क्यों कि उन्हेै अपने Business से सम्बंधित दिन भर में कई बार ज्यादा बड़े Value के Transaction करने होते हैं, और ऐसे High Value वाले Transaction RTGS के माध्यम ही किए जा सकते हैं. लेकिन ये सिर्फ उनके लिए ही सिमित नहीं है बल्कि RTGS का इस्तमाल आम Investors या Person भी कर सकते हैं.

अगर कभी किसी व्यक्ति को अपने किसी एक Account से दूसरे Account में या फिर किसी दूसरे लोग के Account में INR 2,00,000 या उससे ज्याAदा का Fund Transfer करना है तो उसे RTGS का इस्तमाल करना ही होगा Fund Transfer के लिए. आप Mutual Fund में investment करने के लिए भी RTGS का इस्तमाल Use कर सकते हैं.

RTGS और NEFT में मुख्य क्या अंतर है

CriteriaNEFTRTGS
SettlementsTransactions को batches में settle किया जाता हैवहीँ यहाँ पर Transactions को individually settle किया जाता है
RTGS Timingsयहाँ पर Settlement को hourly basis में bank working hours के दोरान किया जाता हैलेकिन यहाँ पर Real Time पर ही सारे process को निपटाया जाता है
Transaction Amountयहाँ कोई minimum limit नहीं है लेकिन एक maximum limit जरुर हैवहीँ यहाँ पर Minimum limit है Rs.2 lakh वहीँ कोई भी upper ceiling नहीं है
Valueइन्हें मुख्यतः lower और medium range के transactions के लिए किया जाता हैवहीँ इन्हें higher value के transactions के लिए इस्तमाल किया जाता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker